Live on NaukriTime
Welcome To naukri,Nakritime,Sarkari Result, Sarkari Exam,sarkarijob,sarkarijobfind,sarkari (NaukariTime.com)
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा, एक सरकारी और 2 प्राइवेट

Reserve Bank of India : इस समय 90 प्रतिशत लोग अपनी कमाई बैंकों में रखते हैं क्योंकि बैंकों में पैसा सुरक्षित माना जाता है। लेकिन ऐसा नहीं है कि आपके बैंक अकाउंट में रखा पैसा पूरी तरह से सुरक्षित है क्योंकि जिस बैंक में आपका पैसा रखा है अगर वो दिवालिया हो जाता है तो इसका परिणाम भी आपको भुगतना पड़ेगा।

अब सवाल यह है कि देश का सबसे सुरक्षित बैंक कौन सा है या फिर सभी सरकारी बैंक सुरक्षित हैं? आरबीआई ने इस बारे में अहम जानकारी दी है। आइए जानते हैं कौन सा बैंक सबसे सुरक्षित है और अगर बैंक डूब जाता है तो आपको कितना पैसा वापस मिलता है।

लोग अपनी मेहनत की कमाई बैंक में जमा करते हैं। वे ऐसा इसलिए करते हैं क्योंकि यह पैसा समय की मोटी अवधि में काम आएगा। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि बैंक ही डूब जाता है। फिर उस बैंक के खाताधारकों के हाथ में सिर पीटने के अलावा कुछ नहीं बचता।

इस कारण से, यह देखना उचित है कि आपकी कमाई को किसी को सौंपने से पहले यह देखना उचित है कि सामने वाला बैंक सुरक्षित है या नहीं। केंद्रीय बैंक (आरबीआई) ने इस साल की शुरुआत में घरेलू प्रणालीगत रूप से महत्वपूर्ण बैंकों (डी-एसआईबी) की एक सूची जारी की थी। इसमें देश के उन बैंकों के नाम शामिल हैं जो सबसे सुरक्षित हैं।

RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा
RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा

भारतीय बेंकों की सिलिकॉन वैली बैंक जैसी हालत तो नहीं है?

आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) द्वारा इस साल एक सूची जारी की गई थी। उस दिन रिजर्व बैंक ने एक लिस्ट जारी कर बताया था कि किस बैंक में आपका पैसा सुरक्षित है और किस बैंक में आपका पैसा सुरक्षित नहीं है। आप जानते हैं कि अगर कोई देश एक भी बड़े बैंक को डुबोता है तो उसका नुकसान पूरी अर्थव्यवस्था पर होता है। ग्राहकों को क्या भुगतना पड़ता है यह अलग है।

कौन-कौन से बैंक हैं RBI की लिस्ट में

रिजर्व बैंक द्वारा जारी सबसे सुरक्षित बैंकों की सूची में एक सरकारी और 2 निजी बैंकों के नाम शामिल हैं। इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का नाम है। इसके अलावा 2 निजी क्षेत्र के बैंक इस सूची में शामिल हैं।

इनमें एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं। मतलब अगर आपका खाता एसबीआई (सरकारी बैंक) में नहीं बल्कि एचडीएफसी बैंक या आईसीआईसीआई बैंक में है तो भी आपको कोई परेशानी नहीं है।

इस लिस्ट में कौन बैंक आ सकते हैं ?

इस सूची में केवल वही बैंक आते हैं, जिन्हें सामान्य पूंजी संरक्षण बफर के अलावा अतिरिक्त कॉमन इक्विटी टियर 1 (CET1) बनाए रखना आवश्यक होता है। RBI के अनुसार, भारतीय स्टेट बैंक (SBI) को अपनी जोखिम-भारित परिसंपत्तियों के प्रतिशत के रूप में अतिरिक्त 0.6 प्रतिशत CET1 बनाए रखना होगा। इसी तरह आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक को अतिरिक्त 0.2 फीसदी बनाए रखने की जरूरत है.

इन बैकों पर रिजर्व बैंक की रहती है कड़ी नजर

केंद्रीय बैंक की इस लिस्ट में जो बैंक आते हैं, उन पर आरबीआई की कड़ी नजर रहती है। रिजर्व बैंक इन बैंकों के दैनिक कामकाज पर तो नजर रखता ही है, किसी बड़े लोन या अकाउंट पर भी कड़ी निगहबानी होती है। यही नहीं, यदि किसी बड़े प्रोजेक्ट पर बैंक लेंडिंग की बातचीत करती है तो उसका भी मूल्यांकन किया जाता है। ये देखा जाता है कि इसका बैंक के पूरे कारोबार पर कोई निगेटिव असर तो नहीं पड़ेगा।

कब से जारी हो रही है यह लिस्ट

आरबीआई 2015 से ऐसे बैंकों की सूची जारी कर रहा है। रिजर्व बैंक का मानना है कि ऐसे बैंक देश की अर्थव्यवस्था के लिए जरूरी हैं। इन बैंकों को आरबीआई द्वारा भी रेटिंग दी जाती है। इस रेटिंग के बाद ही इन महत्वपूर्ण बैंकों की सूची तैयार की जाती है। हालांकि अभी तक आरबीआई इस लिस्ट में 3 बैंकों के नाम शामिल कर पाया है।

बैंक डूबने पर कितना पैसा मिलता है वापस

आप जानते हैं कि अगर कोई बैंक डूब जाता है और उसमें आपका खाता है, तो आपको कितना पैसा वापस मिलेगा। अगर आप बैंक के ग्राहक हैं तो आपको पता होना चाहिए कि अगर आपका बैंक डिफॉल्ट करता है या डूबता है तो आपको बैंक में जमा पैसे पर 5 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस कवर मिलता है।

यह राशि डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (डीआईसीजीसी) से मिलती है। डीआईसीजीसी भारतीय रिजर्व बैंक की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है।  यह देश के बैंकों का बीमा करता है।  इससे पहले इस एक्ट के तहत बैंक फेल होने या दिवालिया होने की स्थिति में 1 लाख रुपये तक की राशि दी जाती थी। लेकिन, सरकार ने इसे बढ़ाकर 5 लाख कर दिया है।  विदेशी बैंक जिनकी शाखाएं भारत में हैं, वे भी इस दायरे में आते हैं।

कितने दिनों में मिलता है पैसा 

बैंक के डूबने या बंद होने की स्थिति में, डीआईसीजीसी 45 दिनों के भीतर ग्राहकों के खातों से संबंधित सभी जानकारी एकत्र करता है। इसके बाद जांच की जाती है और अगले 45 दिनों के अंदर ग्राहक को राशि दे दी जाती है। पूरी प्रक्रिया में 90 दिन लगते हैं। इसलिए जानकारों का कहना है कि बैंक खाते में 5 लाख रुपये से ज्यादा नहीं रखना चाहिए। आप अपना पैसा अलग-अलग बैंकों में रख सकते हैं ताकि ऐसे में आपकी कमाई पूरी तरह से सुरक्षित रहे।

Important Link

Telegram Group  
new
Click Here
Latest JobsnewClick Here

निष्कर्ष – RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा

इस तरह से आप अपना RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा कर सकते हैं, अगर आपको इससे संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें RBI ने बताया, देश के इन 3 बैंकों में सबसे सुरक्षित है ग्राहकों पैसा पोर्टल की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|’

Sources –Internet

Related Posts

Join Job And News Update
TelegramWhatsApp Channel
FaceBookInstagram
TwitterYouTube
x