PM Kaushal Vikas Yojana : कौशल विकास योजना में करें आवेदन, देखें पूरी जानकारी

PM Kaushal Vikas Yojana PMKVY : प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना  के शुभारंभ के बाद इस साल 10 जुलाई तक 1.37 करोड़ लोगों ने पंजीकरण कराया है। सरकार ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की यह PMKVY योजना 700 से अधिक जिलों और 37 क्षेत्रों में लागू की गई है।

PM Kaushal Vikas Yojana PMKVY

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा, “प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत, 10 जुलाई, 2021 तक, पीएम कौशल विकास पाठ्यक्रम योजना की शुरुआत के बाद से 700 से अधिक जिलों में 137 लाख उम्मीदवारों ने नामांकन किया है। किया गया था। आइए जानते हैं इस प्लान के बारे में सबकुछ –

gggg min

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाओं में से एक है। मोदी सरकार PMKVY के माध्यम से कम पढ़े-लिखे या 10वीं, 12वीं क्लास ड्रॉप आउट (मिडिल स्कूल ड्रॉपआउट) युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करती है।

केंद्र सरकार पीएमकेवीवाई के तहत एक करोड़ युवाओं को स्किल ट्रेनिंग देना चाहती है। पीएम स्किल डेवलपमेंट स्कीम में युवाओं को ट्रेनिंग देने की फीस सरकार खुद भरती है। पीएमकेवीवाई की मदद से अब तक देश में सवा करोड़ युवाओं को कुशल बनाया जा चुका है।

पीएमकेवीवाई का उद्देश्य क्या है?- What is the purpose of PMKVY

देश की तरक्की युवाओं पर निर्भर करती है क्योंकि जब युवा खुद को देश की आबादी के बड़े हिस्से के रूप में विकसित करेंगे तो देश का विकास भी होगा। पीएम स्किल डेवलपमेंट कोर्स स्कीम का मुख्य उद्देश्य युवाओं के लिए अधिक से अधिक अवसर पैदा करना है, ताकि वे इन अवसरों का उपयोग अपनी पसंदीदा नौकरी या करियर चुनने के लिए कर सकें। पीएमकेवीवाई कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय द्वारा चलाया जाता है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का उद्देश्य देश के युवाओं को उद्योग से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान करना है ताकि उन्हें रोजगार मिल सके।

पीएम कौशल विकास योजना के लाभ : PM Kaushal Vikas Yojana

आवेदक के लिए पीएम स्किल डेवलपमेंट कोर्स योजना में अपना नामांकन कराना जरूरी है। इसके लिए आपको pmkvyofficial.org पर जाकर अपना नाम, पता और ईमेल आदि भरना होगा।

फॉर्म भरने के बाद आवेदक को उस टेक्निकल फील्ड का चयन करना होगा जिसमें वह ट्रेनिंग लेना चाहता है। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग, फर्नीचर एंड फिटिंग, हैंडीक्राफ्ट, जेम्स एंड ज्वैलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे 40 टेक्निकल सेक्टर दिए गए हैं।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की मुख्य विशेषताएं

पीएमकेवीवाई में पसंदीदा तकनीकी क्षेत्र के एक अतिरिक्त तकनीकी क्षेत्र को भी चुनना होगा। इस जानकारी को भरने के बाद आपको अपने ट्रेनिंग सेंटर का चयन करना होगा। पीएम स्किल डेवलपमेंट कोर्स योजना के लिए कोई फीस नहीं है, लेकिन सरकार प्राइज मनी के तौर पर करीब 8000 रुपये देती है।

PMKVY में रजिस्ट्रेशन 3 महीने, 6 महीने और 1 साल के लिए होता है। कोर्स पूरा करने के बाद ही सर्टिफिकेट दिया जाएगा। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का यह प्रमाण पत्र पूरे देश में मान्य होगा।

निष्कर्ष –  PM Kaushal Vikas Yojana 

दोस्तों यह थी आज की  PM Kaushal Vikas Yojana  के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको   PM Kaushal Vikas Yojana , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके   PM Kaushal Vikas Yojana  से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें|

Important Links (महत्वपूर्ण लिंक्स)

Joine Us TelegramnewClick Here
Offical WebsitenewClick Here
x