Fasal Bima Yojana Bihar Online Apply 2021

फसल सहायता योजना बिहार |  Fasal Bima Yojana Bihar Online Apply 2021 | Bihar Fasal Bima Yojana 2021 Online Apply | फसल सहायता योजना बिहार ऑनलाइन आवेदन,bihar rajya fasal sahayata yojana rabi 2021, bihar fasal bima yojana online apply,fasal bima yojana bihar 2021 last date

दोस्तों fasal bima yojana bihar online सरकार द्वारा संचालित योजना है। इस योजना की शुरुआत माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने की थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन सभी लोगों को मुआवजा देना है, जिन्हें फसल क्षति हुई है।| bihar raj fasal bima yojanaFasal Bima Yojana Bihar Online Apply 2021

How to Apply Fasal Bima Yojana Bihar Online 2021 

Important Date

Apply State

  • Application Start Date: Not Clear
  • Application Last Date: 31-07-2021
  • फसल कटनी का प्रयोग: 28-02-2022
  • मुआबजा का निर्धारण: 15-03-2022
Only Bihar

Fasal Bima Yojna Bihar 2021 || Bihar Fasal Bima Yojna 2021

फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन इसके लिए आवेदन करना चाहते हैं हम आपको बताना चाहते हैं कि पहले आपको इन दिशा-निर्देशों को समझना होगा, आवेदन करने से पहले आपको क्या चाहिए?,bihar fasal sahayata yojna 2021

बिहार फसल बीमा योजना के प्रकार क्या हैं? |

बिहार में फसल बीमा योजना को दो प्रकार में बांटा गया है ताकि किसानों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके।
  • रैयत किसान
  • गैर रैयत किसान

रैयत किसानफसल बीमा योजना बिहार

bihar fasal sahayata yojana 2021 केवल वही लोग जिनके पास अपने नाम पर रसीद या जमीन है, वे रैयत किसान में आवेदन कर सकते हैं, वही लोग रैयत किसान में फसल बीमा योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं, रैयत किसान में आवेदन कर सकते हैं, आपके पास कुछ चीजें होनी चाहिए बहुत महत्वपूर्ण है
  • किसान रजिस्ट्रेशन
  • आधार कार्ड
  • फोटो
  • बैंक के पासबुक
  • खेत का रसीद
  • LPC

गैर रैयत किसानफसल बीमा योजना बिहार

गैर रैयत किसान मैं केवल उन्हीं लोगों को आवेदन कर सकता हूं जिनके पास अपने नाम से रसीद नहीं है, वे किसी और के खेत की खेती करते हैं जैसे मेरे पास अपने नाम से रसीद है । मैं अपनी खेती खुद नहीं करता। यदि खेती करने वाला व्यक्ति आवेदन करता है, तो वह गैर-रैयत किसान में लागू होगा। यदि आप फसल बीमा योजना के तहत गैर-रैयत किसान को आवेदन करना चाहते हैं, तो आपके पास कुछ चीजें होनी चाहिए।
  • किसान रजिस्ट्रेशन
  • आधार कार्ड
  • बैंक के पासबुक
  • फोटो
  • खेत का रसीद
  • स्व घोषणा पत्र

bihar rajya fasal bima yojana किन किन फसलो के लिए Fasal Bima Yojana Bihar Online का आवेदन शुरु है ?

  • धान
  • मक्का
  • सोयाबीन

सोयाबीन

केवल 3 जिलों के लोग ही कर सकते हैं आवेदन सोयाबीन के लिए बेगूसराय, समस्तीपुर, खगड़िया जिले के लोग ही इसकी खेती कर सकते हैं, इसलिए इन जिलों के लोग ही आवेदन कर सकते हैं।

मक्का

सभी जिले के लोग मक्का के लिए आवेदन कर सकते हैं क्योंकि इसकी खेती जिले के सभी लोग करते हैं।

धान

बिहार में लगभग सभी जिलों में धान की खेती होती है और इसके लिए बिहार के सभी जिलों के लोग धान के लिए आवेदन कर सकते हैं, लेकिन इन सात प्रखंडों को छोड़कर।
  • भागलपुर जिले के नवगछिया
  • बिहपुर
  • गोपालपुर
  • नारायणपुर
  • इस्माइलपुर
  • रंगराचौक
  • खरिक
इन प्रखंडों के लोग धान के लिए ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकते।

fasal bima yojana bihar online registration Important Links

Online ApplyClick Here
गैर रैयत स्व घोषणा पत्र Click Here
योग्य ग्राम पंचायतों की सूची Click Here
Official LinkClick Here

FAQ – Fasal Bima Yojna Bihar Online Apply | how to check bihar fasal bima yojana status

Fasal Bima Yojana Bihar Online कितने प्रकार के होते हैं

बिहार में फसल बीमा योजना को दो प्रकार में बांटा गया है ताकि किसानों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके। रैयत किसान गैर रैयत किसान

Fasal Bima Yojana Bihar Online Kase Kare

फसल बीमा योजना बिहार ऑनलाइन के लिए आवेदन करने के लिए आपके लिए आधार कार्ड, किसान पंजीकरण, फोटो बैंक पासबुक, खेत की रसीद, एलपीसी जैसी कुछ चीजें होना बेहद जरूरी है, अगर आप नॉन रैयत किसान हैं तो इन सब चीजों के लिए सेल्फ डिक्लेरेशन लेटर होना बेहद जरूरी है। कोई भी बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकता है

Fasal Bima Yojana Bihar के लाभ

इस योजना का लाभ प्रदेश के उन किसानों को मिलेगा, जिनकी फसलों को प्राकृतिक आपदा, मौसम की स्थिति के कारण नुकसान हुआ है। बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के तहत राज्य के किसानों की फसलों की वास्तविक उपज दर में 20 फीसद तक का नुकसान होने पर सरकार द्वारा 7500 रुपये प्रति हेक्टेयर की राशि प्रदान की जाएगी। यदि वास्तविक उपज दर बिहार राज्य के किसानों की फसलों को 20 फीसद से अधिक नुकसान होता है तो प्रति हेक्टेयर 10,000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।

Leave a Comment

x