Bihar Land Survey: बिहार में शुरू हो रहा हैं जमीन का सर्वे! खोजा जायेगा आपका खतियान

बिहार में शुरू हो रहा हैं जमीन का सर्वे! खोजा जायेगा आपका खतियान

Bihar Land Survey: राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के अपर मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ने कहा कि राज्य में फरवरी, 2023 से भूमि सर्वेक्षण का कार्य शुरू हो जाएगा। अगले दो साल में भूमि सर्वेक्षण का कार्य पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 20 जिलों में चल रहे भूमि सर्वेक्षण का काम को ससमय पूरा करने के लिए बंदोबस्त पदाधिकारियों को कई जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

प्रथम चरण के सभी बंदोबस्त पदाधिकारियों को कहा गया है कि वे अपने जिलों में चल रहे भूमि सर्वेक्षण के काम में प्रारूप प्रकाशन का काम हर हाल में फरवरी तक पूरा कर लें। फरवरी के बाद पूरे बिहार में सर्वे कर्मियों की नए तरीके से पदस्थापन की जाएगी। फिलहाल प्रथम चरण के 20 जिलों के 89 अंचलों में भूमि सर्वेक्षण के विभिन्न चरणों का काम चल रहा है।

Bihar Sand Ghats: बिहार के 28 जिलों में बालू घाटों के बंदोबस्त की प्रक्रिया अंतिम दौर में है। कुछ जिलों में 10 से 11 अक्टूबर के बीच टेंडर को अंतिम रूप दिया जाएगा तो कुछ जिलों में यह प्रक्रिया 17-20 अक्टूबर के बीच पूरी होगी। इस बीच खान एवं भू-तत्व विभाग ने ठीकेदारों के लिए बालू ढुलाई के नियम और सख्त कर दिए हैं।

जहां कुल 208 शिविरों के अंतर्गत 4989 गांवों में प्रारूप प्रकाशन का काम फरवरी, 2023 तक पूरा कर लेने का लक्ष्य है। श्री मेहरोत्रा मंगलवार को बंदोबस्त पदाधिकारियों की मासिक बैठक में ये बातें कही। उन्होंने बताया कि अगले साल शिविरों की संरचना में भी परिवर्तन किया जाएगा।

छोटा हो या बड़ा हरेक अंचल में सिर्फ एक शिविर होगा और हरेक शिविर में एक शिविर प्रभारी/सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी, 2 कानूनगो, 2 लिपिक और हर 4 मौजा/गांव पर एक अमीन की प्रतिनियुक्ति की जाएगी।

2024 के आखिर तक कार्य पूरा करने का लक्ष्य : Bihar Land Survey

इस काम को अगले 2 साल में यानि 2024 के आखिर तक पूरा कर लेने का लक्ष्य रखा गया है। बैठक में भू-अभिलेख और परिमाप निदेशक जय सिंह ने प्रथम चरण के सभी 89 अंचलो में भूमि सर्वे के काम की विस्तार से समीक्षा की।

फिलहाल इस चरण के 4989 गांवों में से 93.4 फीसदी गांवों में ग्राम सीमा सत्यापन और 85 फीसदी गांवों में किस्तवार का काम पूरा कर लिया गया है। 1323 गांवों में खानापुरी का काम पूरा करके 450 गांवों में प्रारूप का प्रकाशन कर दिया गया है।

फिलहाल जिन 89 अंचलों में भूमि सर्वेक्षण का काम जारी है वहां 208 शिविर बनाया गया है। अभी 30 से 40 मौजों पर एक शिविर का निर्माण किया गया है। ऐसे में छोटे अंचल में एक तो बड़े अंचलों में 3 से 4 शिविर कार्यरत हैं।

हरेक शिविर में 1 विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त पदाधिकारी, 1 से 2 कानूनगो, 1 लिपिक और औसतन 2 मौजा पर एक विषेष सर्वेक्षण अमीन की प्रतिनियुक्ति की गई है। बैठक में भू- अभिलेख एवं परिमाप निदेशक जय सिंह और सहायक निदेशक अनिल कुमार सिंह भी उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण लिंक्स ( Important Links)

Home Pagenew
Click Here
Join Our Telegram GroupnewClick Here

निष्कर्ष – Bihar Land Survey

इस तरह से आप अपना Bihar Land Survey   में आवेदन  कर सकते हैं, अगर आपको इससे संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की Bihar Land Survey  के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Bihar Land Survey , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके Bihar Land Survey   से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Bihar Land Survey  की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|

x