Live on NaukriTime
Welcome To naukri,Nakritime,Sarkari Result, Sarkari Exam,sarkarijob,sarkarijobfind,sarkari (NaukariTime.com)
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Agriculture Drone Subsidy 2024: एग्रीकल्चर ड्रोन सब्सिडी , महिलाओं और छोटे किसानों को 10 लाख का ड्रोन 5 लाख में मिलेगा

Agriculture Drone Subsidy 2024:- लोकसभा चुनाव 2024 से पहले केंद्र सरकार अपनी योजनाओं का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाना चाहती है। मोदी सरकार किसानों, महिलाओं, युवाओं, व्यापारियों, मजदूरों, कर्मचारियों सहित सभी वर्गों के लिए संचालित योजनाओं के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में आगे बढ़ रही है।

मोदी सरकार का सबसे ज्यादा फोकस महिलाओं और किसानों पर है। किसानों को उनकी आय दोगुनी करने की दिशा में कई तरह से लाभान्वित किया जा रहा है। अब खेती में कृषि ड्रोन की उपयोगिता को देखते हुए महिलाओं और छोटे किसानों को ड्रोन पर 50 प्रतिशत सब्सिडी दी जा रही है.

इस योजना का लाभ उठाकर महिलाएं और छोटे किसान 10 लाख रुपये का ड्रोन 5 लाख रुपये में खरीद सकते हैं। इसके अलावा कृषि स्नातक, एससी-एसटी वर्ग के किसान, सामान्य श्रेणी के किसान, कृषि उत्पादक संगठन भी योजना का लाभ उठा सकते हैं। ट्रैक्टर जंक्शन की एक पोस्ट में आपको केंद्र सरकार की एग्री ड्रोन सब्सिडी स्कीम, ड्रोन रजिस्ट्रेशन, ड्रोन की कीमत और ड्रोन के फायदे के बारे में जानकारी दी जा रही है।

Agriculture Drone Subsidy 2024
Agriculture Drone Subsidy 2024

कृषि ड्रोन सब्सिडी : जानिए किसे मिलेगी कितनी सब्सिडी

मोदी सरकार कृषि क्षेत्र में तकनीक के विस्तार को प्रोत्साहित कर रही है। लेकिन देश के अधिकांश किसान आर्थिक तंगी के कारण तकनीक का उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में मोदी सरकार कृषि में नवीनतम तकनीक वाले कृषि ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए 40 से 100 फीसदी तक भारी सब्सिडी दे रही है।

  • महिला, कृषि स्नातक, एससी/एसटी वर्ग के किसानों को 50 प्रतिशत सब्सिडी या 5 लाख रुपये दिए जाएंगे।
  • सामान्य किसानों के लिए 40 प्रतिशत या 4 लाख रुपये की सब्सिडी का प्रावधान किया गया है।
  • कृषि उत्पादक संगठनों को ड्रोन की खरीद पर 75 प्रतिशत सब्सिडी मिलेगी।
  • कृषि प्रशिक्षण संस्थानों और कृषि विश्वविद्यालयों को 100 प्रतिशत या 10 लाख रुपये की सब्सिडी दी जाएगी।

एग्रीकल्चर ड्रोन से खेती में फायदे

भारत में हर साल करीब 35 फीसदी फसल रोग, कीट, खरपतवार व वैक्टीरिया के कारण खराब हो जाती है। ज्यादातर किसानों को फसल में रोग व कीट का पता शुरुआती दौर में नहीं लग पाता है और जब पता लगता है तब तक बहुत देर हो जाती है और फसल खराब हो चुकी होती है।

ऐसे में अगर दवा व कीटनाशक का छिड़काव करके फसल को बचाते हैं तो समय व पैसा भी बहुत अधिक खर्च होता है। लेकिन ड्रोन की मदद से फसल में रोग व कीट का पता शुरुआत दौर में ही लग जाता है और उसे रोका जा सकता है। इस तकनीक में सेटेलाइट इमेज का ही इस्तेमाल किया जाता है।

इसके अलावा कृषि ड्रोन के कुछ फायदे इस प्रकार हैं :-

  • एग्रीकल्चर ड्रोन की मदद से कीटनाशक, दवा व यूरिया का प्रभावी छिड़काव किया जा सकता है।
  • खेतों में बीजों की बुवाई की जा सकती है।
  • फसलों में बीमारी का पता लगाया जा सकता है।
  • फसलों में नुकसान का सही आकलन किया जा सकता है।
  • मिट्टी के स्वास्थ्य की जांच के साथ-साथ व खेत में सिंचाई के लिए सही प्लानिंग बनाई जा सकती है।

क्या है एग्रीकल्चर ड्रोन

एग्रीकल्चर ड्रोन एक कृषि मशीनरी है जो हेलिकॉप्टर की तरह आसमान में उड़कर खेती में कई तरीको से फायदा पहुंचाती है। इसे मानव रहित विमान भी कह सकते हैं। एग्रीकल्चर ड्रो दो प्रकार के होते हैं एक डीजीसीए (नागरिक उड्डयन महानिदेशालय) से अनुमादित और दूसरे वे जो अनुमोदित नहीं है। DGCA से अनुमादित कृषि ड्रोन लीगल कैटेगरी में आते हैं। इनकी कीमत कीमत 4 लाख से 12 लाख रुपए तक होती है। वजन के अनुसार ड्रोन को 5 कैटेगरी में बांटा गया है :-

  • नैनो ड्रोन – 250 ग्राम से कम
  • मैक्रो ड्रोन – 250 ग्राम से 2 किग्रा तक
  • स्मॉल ड्रोन – 2 किग्रा से 25 किग्रा तक
  • मीडियम ड्रोन – 25 किग्रा से 150 किग्रा तक
  • हैवी ड्रोन – 150 किग्रा से ज्यादा वजन

 ऐसे कराएं ड्रोन के लिए रजिस्ट्रेशन

  • अगर कोई किसान ड्रोन खरीदता है तो उसके सामने सबसे पहला सवाल यही आता है कि क्या ड्रोन उड़ाने में कोई कानूनी अड़चन आएगी। तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ड्रोन उड़ाने के लिए ड्रोन पायलट सर्टिफिकेट होना चाहिए।
  • अगर आप ड्रोन उड़ाने की परमिशन और सर्टिफिकेट लेना चाहते हैं तो https://digitalsky.dgca.gov.in/home आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • आप निर्धारित शुल्क का भुगतान करके ड्रोन पायलट प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं।
  • यहां आपको बता दें कि पायलट सर्टिफिकेशन से पहले आपको डीजीसीए यानी डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन से ट्रेनिंग पास करनी होती है।
  • यहां आपको ड्रोन उड़ाने के बुनियादी नियमों का पालन करते हुए ड्राइव टेस्ट देना होगा।

ड्रोन का पायलट बनने के लिए योग्यता

  • ड्रोन का पायलट बनने के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 10 वर्ष होनी चाहिए और वह कम से कम 10वीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।

Important Link

Official Website
new
Click Here
Telegram GroupnewClick Here
Latest JobsnewClick Here

निष्कर्ष – Agriculture Drone Subsidy 2024

इस तरह से आप अपना Agriculture Drone Subsidy 2024 में आवेदन  कर सकते हैं, अगर आपको इससे संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की Agriculture Drone Subsidy 2024 के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Agriculture Drone Subsidy 2024 , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके Agriculture Drone Subsidy 2024  से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Agriculture Drone Subsidy 2024  की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|

Related Posts

Join Job And News Update
TelegramWhatsApp Channel
FaceBookInstagram
TwitterYouTube
x