Live on NaukriTime
Welcome To naukri,Nakritime,Sarkari Result, Sarkari Exam,sarkarijob,sarkarijobfind,sarkari (NaukariTime.com)
WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Maldives Currency: मालदीव का 1 रूपया भारत के कितने रुपये के बराबर है, यहां जाने पूरी जानकारी

Maldives Currency: मालदीव दुनिया का सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थल है, यह ‘बीच लवर्स’ के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। यहां लाखों लोग घूमने के लिए आते हैं। हालांकि भारत और मालदीव के बीच विवाद के बाद मालदीव का बहिष्कार का नारा और मजबूत हो गया है।

दरअसल, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साल 2024 की पहली यात्रा के लिए लक्षद्वीप गए थे, यहां उन्होंने बेहद खूबसूरत तस्वीरें भी खींची और खींचीं, जैसे ही ये कैप्चर की गई तस्वीरें पोस्ट हुईं, लोगों ने लक्षद्वीप की तुलना मालदीव से करनी शुरू कर दी। वहीं, यह तुलना मालदीव के कई मंत्रियों को रास नहीं आई।

इसके बाद उन्होंने भारत देश पर आपत्तिजनक टिप्पणी करनी शुरू कर दी। भारत के लोगों ने भी फिर से कड़ा रुख अपनाया और सोशल मीडिया पर बॉयकॉट मालदीव ट्रेंड करने लगा, इन सब विवादों के बीच आज हम आपको बताएंगे कि मालदीव और भारत के बीच किस देश की करेंसी की वैल्यू ज्यादा है, तो आइए जानते हैं ये दिलचस्प बात…..

Maldives Currency

भारत या मालदीव किसकी करेंसी की है ज्यादा वैल्यू?

हर देश की अपनी करेंसी होती है, जैसे हमारे भारत का एक रुपया है, वैसे ही मालदीव की भी अपनी करेंसी है जिसे मालदीव रुफिया कहा जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत और मालदीव दोनों की किस करेंसी की वैल्यू ज्यादा है?

अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं कि किस देश की करेंसी किस देश पर भारी पड़ती है। दरअसल, हम आपको बताते हैं कि मालदीव का एक रुपया भारत के कितने रुपये के बराबर है, आपको बता दें कि मालदीव की एक रुफिया भारत के 5.39 रुपये के बराबर है।

मालदीव को टक्कर देता है अपने भारत का लक्षद्वीप

अगर दुनिया के सबसे लोकप्रिय पर्यटन स्थल की बात करें तो सबसे पहले मालदीव का नाम लिया जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत में भी एक ऐसी ही जगह है, जो खूबसूरती के मामले में मालदीव से कम नहीं है। दरअसल, हम बात कर रहे हैं भारत के मालदीव कहे जाने वाले लक्षद्वीप की, जो ‘बीच लवर्स’ के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। मालदीव जहां अपने खूबसूरत वाटर विला के लिए मशहूर है, वहीं लक्षद्वीप अभी भी ऐसी सुविधाओं की ओर बढ़ रहा है।

दरअसल, हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2024 का पहला लक्षद्वीप दौरा किया, इस दौरान पीएम मोदी लक्षद्वीप की खूबसूरती देखकर मंत्रमुग्ध हो गए, इस दौरान उन्होंने लक्षद्वीप के लिए अपने अनुभव सोशल मीडिया पर साझा किए। इस बीच, नरेंद्र मोदी ने समुद्र के नीचे जीवन का पता लगाने के लिए स्नॉर्कलिंग का सहारा लिया।

समुद्र के नीचे जीवन की खोज करने के बाद नरेंद्र मोदी ने इससे जुड़ी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट की. इस दौरान पीएम मोदी ने लक्षद्वीप के समुद्र तटों पर सुबह की सैर और समुद्र तट पर कुर्सी पर बैठकर फुर्सत के कुछ पल भी शेयर किए. जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि लक्षद्वीप प्रकृति प्रेमियों के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है, तो चलिए हम आपको बताते हैं कि लक्षद्वीप में आप कौन-कौन सी जगह घूम सकते हैं।

कैसे पहुंचें लक्षद्वीप

लक्षद्वीप जाने के लिए सबसे पहले आपको केरल के कोच्चि जाना होगा। इसके बाद कोच्चि को लक्षद्वीप जाना होगा। वहीं, आप चाहें तो कोच्चि से क्रूज शिप के जरिए लक्षद्वीप के अगत्ती द्वीप भी जा सकते हैं। अगत्ती द्वीप में आप स्नॉर्कलिंग का आनंद ले सकते हैं, यह खूबसूरत समुद्र तट के लिए प्रसिद्ध है।

अगत्ती को लक्षद्वीप के सबसे खूबसूरत लैगून में से एक माना जाता है, जो चारों ओर समुद्र से घिरा हुआ है। पानी के बीच में स्थित यह द्वीप अपने खूबसूरत समुद्र तटों के लिए काफी प्रसिद्ध है। अगत्ती की सड़क नारियल और ताड़ के पेड़ों से होकर गुजरती है। आपको बता दें कि यहां की जमीन का निर्माण कोरल ने किया है।

यह ‘स्कॉर्कलिंग’ के लिए काफी प्रसिद्ध है, ‘स्नॉर्कलिंग’ में लोग समुद्र की सतह पर तैरते हुए इसके नीचे समुद्री जीवन का पता लगाते हैं, लोग स्नॉर्कलर्स को देखने के लिए मास्क पहनते हैं, और सांस लेने के लिए स्नॉर्कल पहनते हैं, जबकि कभी-कभी दिशा आंदोलन के लिए पंख पहनते हैं।

मिनिकॉय और बांगरम द्वीप

मिनिकॉय द्वीप लक्षद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा द्वीप है, यह कोचीन के तट से लगभग 400 किमी दूर है, इसे स्थानीय भाषा में मलिकू भी कहा जाता है, यहां आपको अरब सागर का साफ और नीला पानी देखने को मिलेगा, साथ ही कोरल रीफ और सफेद रेत भी देखने को मिलेगी, इसके अलावा आप बंगाराम द्वीप घूमने भी जा सकते हैं, यह हिंद महासागर के तट पर स्थित है, यहां आप डॉल्फिन सहित खूबसूरत मछलियों के अलावा वॉटर स्पोर्ट्स और एडवेंचर स्पोर्ट्स का मजा ले सकते हैं, इसके अलावा आप सूर्योदय और सूर्यास्त का भी आनंद ले सकते हैं, यहां स्कूबा डाइविंग भी है।

कवरत्ती द्वीप समूह और कल्पेनी द्वीप समूह

लक्षद्वीप की राजधानी कवरत्ती द्वीप है, जो खूबसूरत द्वीपों, सफेद रेत के लिए जाना जाता है, यहां 12 एटोल और पांच जलमग्न किनारे हैं, इसके अलावा यहां नारियल के खूबसूरत पेड़ हैं और पानी के खेल का भी आनंद लिया जा सकता है। इसके अलावा कल्पेनी द्वीप या कोइफानी द्वीप में आप प्राकृतिक सुंदरता का आनंद ले सकते हैं, यह पिट्टी और तिलक्कम द्वीप से मिलकर बना है। यहां आप कोरल रीफ, कयाकिंग, स्नॉर्कलिंग, कैनोइंग और वोटिंग का भी मजा ले सकते हैं।

Important Link

Telegram Group  
new
Click Here
Official WebsitenewClick Here
Latest JobsnewClick Here

निष्कर्ष – Maldives Currency

इस तरह से आप अपना Maldives Currency  कर सकते हैं, अगर आपको इससे संबंधित और भी कोई जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं |

दोस्तों यह थी आज की Maldives Currency  के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Maldives Currency  , इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके Maldives Currency  से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं |

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Maldives Currency  पोर्टल की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|’

Related Posts

Join Job And News Update
TelegramWhatsApp Channel
FaceBookInstagram
TwitterYouTube
x